तो आप क्या बन रहे हैं? बुआ या फूफा?

पापा :- देख बेटा में तेरे लिए नए जूते लाया हूँ।
मैं :- थैंक्यू पापा, मगर इनका साइज़ तो बड़ा है।
पापा :- हाँ, पहनूंगा तो मैं, तुझे तो खाने हैं बस।
जेब में सेनेटाइजर के साथ साथ एक सुई भी रखें, जिन्हें सोशल डिस्टेंसिंग समझ नहीं आती उन्हें चुभाते हुए चलें।
मोदी जी कहते हैं कि योगा से सब होगा।
कोई मुझे बताएगा, मेरी शादी हो जाएगी क्या?
एक व्यापारी ने उधारिये से मासूम सा सवाल पूछा - मेरा फोन नही उठाना है तो मत उठाओ, बस इतना सा बता दो, खराब क्या है? 
तबियत या नियत।
घरवाली कि किच किच किसी को पसंद नहीं फिर भी कोई भी महाशय गुंगी से शादी करने को तैयार नहीं होता।
है ना, गजब का सत्य।
कोरोना का तो पता नहीं पर जिस हिसाब से पिछले दो महीनों  से फ़ोन में चिपका हुआ हूं।
अंधा होने के नही तो, मोतियाबिंद होने के पूरे चांसेस हैं।
ये लड़कियां बचपन में उतना नखरे नहीं करती...जितना गर्लफ्रेंड का पद मिलने पे करती है।